in

इमरान खान ने जारी की पहली राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति, जानें कश्‍मीर, भारत के साथ क्‍या चाहता है पाकिस्‍तान

इमरान खान ने जारी की पहली राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति, जानें कश्‍मीर, भारत के साथ क्‍या चाहता है पाकिस्‍तान thumbnail
इस्‍लामाबाद

पाकिस्‍तान की इमरान खान सरकार ने देश के इतिहास में पहली बार राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति को जारी कर दिया है। इस सुरक्षा नीति में इमरान खान सरकार ने भारत के साथ भारत के साथ अच्‍छे रिश्‍ते की उम्‍मीद जताई है। साथ ही जम्‍मू-कश्‍मीर को द्विपक्षीय संबंधों में कोर मुद्दा बताया गया है। सुरक्षा नीति में पाकिस्‍तान ने यह भी कहा है कि हिंदुत्‍व आधारित राजनीति पाकिस्‍तान की सुरक्षा के लिए चिंता का सबब है और प्रभाव डाल रही है।



इस सुरक्षा नीति में भारत और कश्‍मीर का कई बार जिक्र किया गया है। पाकिस्‍तान ने कहा कि कश्‍मीर मुद्दे का एक न्‍यायपूर्ण और शांतिपूर्ण समाधान होने तक यह हमारे द्विपक्षीय रिश्‍तों का आधार बना रहेगा। इस दस्‍तावेज में चीन के साथ अच्‍छे रिश्‍ते करने पर भी जोर दिया गया है। उसने चाइना पाकिस्‍तान इकनॉम‍िक कॉरिडोर को पाकिस्‍तान के लिए राष्‍ट्रीय महत्‍व का प्रॉजेक्‍ट बताया है।

‘भारत से 100 साल तक बैर नहीं’ की रिपोर्ट से पाकिस्तानियों को लगा सदमा, पीएम इमरान खान पर फूटा गुस्सा

रूस के साथ भी अच्‍छे रिश्‍ते बनाना चाहता है पा‍किस्‍तान

इमरान खान सरकार भारत के दोस्‍त रूस के साथ भी अच्‍छे रिश्‍ते बनाना चाहती है। पाकिस्‍तान ने कहा कि अमेरिका के साथ उसका सहयोग का लंबा इतिहास रहा है। पाकिस्‍तान किसी खेमे की राजनीति का हिस्‍सा नहीं बनना चाहता है। सुरक्षा नीति में कहा गया है कि पाकिस्‍तान अमेरिका के साथ व्‍यापक रिश्‍ते बनाना चाहता है। इस 100 पन्‍ने के राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति में भारत के साथ व्‍यापार और ब‍िजनस को बढ़ाने पर जोर दिया गया है। इस राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति के ज्‍यादातर हिस्‍से को गोपनीय रखा गया है।

पाकिस्‍तान ने यह राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति साल 2022 से 2026 तक के लिए बनाई है। इसमें भारत और अन्‍य पड़ोसी देशों के साथ दोतरफा व्‍यापार और निवेश को बढ़ाने पर जोर दिया गया है। साथ ही पाकिस्‍तान की आर्थिक सुरक्षा को मजबूत करने पर जोर दिया गया है। पिछले दिनों राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति से जुड़े एक अधिकारी ने पाकिस्‍तानी अखबार एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून से कहा था, ‘हम अगले 100 साल तक भारत के साथ बैर नहीं करेंगे। इस नई नीति में पड़ोसी देशों के साथ शांति पर जोर दिया गया है।’ उन्‍होंने कहा कि इस मुद्दे पर अगर बातचीत और प्रगति होती है तो इस बात की संभावना है कि भारत के साथ पहले की तरह से व्‍यापार और व्‍यवसायिक संबंध सामान्‍य हो सकते हैं।

‘मोदी सरकार के अंतर्गत भारत के साथ मेलमिलाप की संभावना नहीं’

पाकिस्‍तानी अधिकारी ने यह भी कहा कि नई दिल्‍ली में वर्तमान मोदी सरकार के अंतर्गत भारत के साथ मेलमिलाप की कोई संभावना नहीं है। पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान नई राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति को शुक्रवार को लॉन्‍च करेंगे। पाकिस्‍तान अपनी राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति के केवल एक हिस्‍से को ही सार्वजनिक करेगा बाकी का हिस्‍सा गोपनीय रखा जाएगा। इस सुरक्षा नीति को बनाने में पाकिस्‍तानी सेना ने अहम भूमिका निभाई है। इस बीच माना जा रहा है कि विपक्ष नए राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति पर बवाल कर सकता है।

इस बीच भारत में पाकिस्‍तान के पूर्व राजदूत अब्‍दुल बासित ने ट्वीट करके इमरान खान सरकार पर बड़ा हमला बोला है। अब्‍दुल बासित ने ट्वीट करके कहा कि क्‍या पाकिस्‍तान की राष्‍ट्रीय सुरक्षा नीति को भारत के साथ बातचीत और व्‍यापार शुरू करने का सुझाव देना चाहिए, वह भी तब जब हिंदुस्‍तान कश्‍मीर पर समझौता करने के लिए तैयार नहीं है। मैं कहना चाहूंगा कि यह बहुत बड़ी गलती होगी। उन्‍होंने कहा क‍ि इससे पाकिस्‍तान की कश्‍मीर नीति कमजोर हो सकती है।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : imran khan launches pakistan first national security policy know what it says about india kashmir issue china

Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Read More

Leave a Reply

GIPHY App Key not set. Please check settings

I want to group by the Time Array on another key value having start time and end time using Typescript Angular

Motherson Sumi declines 19.7% as Sensex slides thumbnail

Motherson Sumi declines 19.7% as Sensex slides