in

कार में चलना होगा सुरक्षित, सड़क दुर्घटना में नहीं जाएगी जान, सरकार के इन नए नियम के बारे में जानिए

कार में चलना होगा सुरक्षित, सड़क दुर्घटना में नहीं जाएगी जान, सरकार के इन नए नियम के बारे में जानिए thumbnail

Produced by

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: Jan 15, 2022, 10:34 AM

MORTH: सड़क दुर्घटना (Road Accident) में लोगों के जान-माल की सुरक्षा के उद्देश्य से सड़क परिवहन मंत्रालय ने एक जुलाई 2019 से ड्राइवर एयरबैग के फिटमेंट और एक जनवरी 2022 से ड्राइवर के साथ आगे बैठने वाले यात्री के लिए एयरबैग लगाना अनिवार्य कर दिया था। अब एक अक्टूबर 2022 के बाद बिकनेवाली कार में अधिकतर यात्रियों के लिए एयरबैग लगाना जरूरी कर दिया गया है।

Mumbai: Union Minister for Road Transport and Highways Nitin Gadkari during the ...

नई दिल्ली

Morth: भारत में बिकने वाले वाहनों में यात्रियों की सुरक्षा को लेकर अकसर चिंताएं जाहिर की जाती रही हैं। देश में सड़क दुर्घटना में हर साल लाखों लोगों की जान जाती है। सड़क दुर्घटना की स्थिति में लोगों के जानमाल का नुकसान कम से कम हो, इन चिंताओं को दूर करने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं।



केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री (MORTH) नितिन गडकरी ने कहा कि अब भारत में आठ लोगों की क्षमता वाली कार के लिए कम से कम छह एयरबैग जरूरी होंगे। सरकार ने इसे अनिवार्य करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के मसौदे को मंजूरी दे दी है। इसके मुताबिक एम1 कैटेगरी के वाहन में आगे और पीछे दोनों कंपार्टमेंट में बैठे लोगों के सामने और पीछे से होने वाले टक्कर के असर को कम करने के लिए चार अतिरिक्त एयरबैग देना जरूरी बना दिया गया है।

भारत में एयरबैग से संबंधित नियम

सड़क परिवहन मंत्रालय ने एक जुलाई 2019 से ड्राइवर एयरबैग के फिटमेंट और एक जनवरी 2022 से ड्राइवर के साथ आगे बैठने वाले यात्री के लिए एयरबैग लगाना अनिवार्य कर दिया है। अब एक अक्टूबर 2022 के बाद बिकनेवाली कार में अधिकतर यात्रियों के लिए एयरबैग लगाना जरूरी कर दिया गया है। गडकरी ने कहा, “अधिकतम एयरबैग लगाने का यह नियम सभी सेगमेंट की कार में यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा, भले ही वाहन की कीमत/वैरिएंट कुछ भी हो।”

कार में एयरबैग के फायदे

एयरबैग कार में लगने वाला एक महत्वपूर्ण सेफ्टी फीचर है। यह कार के कई हिस्सों में लग सकता है। रोड एक्सीडेंट के दौरान कार एयरबैग एबीएस एक सुरक्षा कवर की तरह काम करते हैं। सड़क पर होने वाले एक्सीडेंट में कई बार तेज रफ्तार वाहन के अचानक रुकने की वजह से उसमें बैठे सवारी के सर या अन्य नाजुक हिस्से में चोट लगती है, इस वजह से बहुत से लोगों की जान जाती है। अगर सड़क दुर्घटना के समय कार में बैठे हर सवारी के लिए एयरबैग खुल जाए तो एयर बैग वास्तव में कार के बॉडी और उसमें बैठी सवारी के बीच के गैप को भरकर पैसेंजर को सीधी टक्कर से बचाता है। इस वजह से दुर्घटना में होने वाला नुकसान बहुत घट सकता है।

कार के किसी भी हिस्से में लग सकता है एयरबैग

आज-कल कई प्रकार के एयरबैग आते हैं और ये कार के किसी हिस्से में लग सकते हैं। ये एयरबैग कार के स्टियरिंग व्हील, दरवाजे, डैशबोर्ड, छत आदि में लगा हो सकता है। सरकार के नए निर्देश के मुताबिक M1 कैटेगरी के वाहनों में दो साइड/साइड टोरसो एयरबैग और दो साइड कर्टेन/ट्यूब एयरबैग लगाए जाएंगे जो कार के सभी यात्रियों को कवर करेंगे। भारत में मोटर वाहनों को पहले से ज्यादा सुरक्षित बनाने के लिए यह एक महत्वपूर्ण कदम है।

सरकारी अधिकारियों की मीटिंग

मोटर वाहन में एयर बैग की सुविधा पर चर्चा के लिए सड़क परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों ने एयर बैग निर्माताओं से मुलाकात भी की थी। इस समय भारत में पैसेंजर कार में 2 एयर बैग का नियम अनिवार्य है। नवंबर 2021 में मिड रेंज कार सेगमेंट में सेफ्टी फीचर्स को लेकर एक बैठक हुई थी जिसके बाद सब सरकार ने यह फैसला लिया है। भारत सरकार चाहती है कि सिर्फ महंगी नहीं बल्कि मिड रेंज कार में भी एयर बैग जैसे सेफ्टी फीचर जरूर हो।

सड़क दुर्घटना में नुकसान

भारत दुनिया के उन शीर्ष देशों में से एक है जहां हर साल बड़ी संख्या में सड़क दुर्घटना होती हैं। इन सड़क हादसों में बड़ी संख्या में लोगों की मौत होती है या गंभीर चोट आती हैं। भारत में सड़क दुर्घटना की मुख्य वजह यातायात के नियमों का उल्लंघन है, लेकिन अपर्याप्त सुरक्षा उपाय, एंट्री लेवल के वाहनों का कमजोर होना जैसे कारण की वजह से बड़ी संख्या में मौत होती हैं।

नाइकी, एडिडास जैसे ब्रांडेड शूज सस्ते में खरीदने का आखिरी मौका


Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : eight-passengers-capacity-car-have-minimum-6-airbags-nitin-gadkari-morth-mandatory-rules-for-vehicles

Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Read More

Leave a Reply

GIPHY App Key not set. Please check settings

Real estate industry wants budget help to sustain recovery thumbnail

Real estate industry wants budget help to sustain recovery

दुकानों में कब से मिलेगी कोरोना की वैक्सीन? जानें पैनल ने क्या कहा thumbnail

दुकानों में कब से मिलेगी कोरोना की वैक्सीन? जानें पैनल ने क्या कहा