in

पंजाब में अब मंत्रिमंडल के लिए शुरू हुई दिल्ली की दौड़, कैप्टन खेमे के नेताओं पर निगाहें

पंजाब में अब मंत्रिमंडल के लिए शुरू हुई दिल्ली की दौड़, कैप्टन खेमे के नेताओं पर निगाहें thumbnail

| नवभारत टाइम्स | Updated: Sep 22, 2021, 3:00 AM

मंत्रिमंडल को लेकर मंगलवार की दोपहर सीएम चन्नी, प्रदेश चीफ नवजोत सिंह सिद्धू और रंधावा चार्टर प्लेन से चंडीगढ़ से दिल्ली पहुंचे। इसकी तस्वीर बाकायदा सिद्धू की ओर से यह कहते हुए जारी की गई कि फर्ज अदायगी के लिए दौरा हो रहा है।

Punjab News: पंजाब में अब मंत्रिमंडल के लिए शुरू हुई दिल्ली की दौड़, कैप्टन खेमे के नेताओं पर निगाहें

Punjab News: पंजाब में अब मंत्रिमंडल के लिए शुरू हुई दिल्ली की दौड़, कैप्टन खेमे के नेताओं पर निगाहें

नई दिल्ली

पंजाब में लंबी उठापटक के बाद आखिर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी और उनके दो सहयोगियों सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी ने बतौर डिप्टी सीएम सोमवार को शपथ ले ली। अब कांग्रेस की निगाहें चन्नी मंत्रिमंडल के विस्तार पर लगी हुई हैं। मंत्रिमंडल को लेकर मंगलवार की दोपहर सीएम चन्नी, प्रदेश चीफ नवजोत सिंह सिद्धू और रंधावा चार्टर प्लेन से चंडीगढ़ से दिल्ली पहुंचे।



इसकी तस्वीर बाकायदा सिद्धू की ओर से यह कहते हुए जारी की गई कि फर्ज अदायगी के लिए दौरा हो रहा है। सूत्रों के मुताबिक, दिल्ली पहुंचकर नेताओं ने जहां कांग्रेस की सीनियर नेता अंबिका सोनी से मुलाकात की, वहीं इन नेताओं की रावत से भी मुलाकात होनी है। उल्लेखनीय है कि रावत पंजाब मामलों के प्रभारी महासचिव हैं।

.

.


अंबिका सोनी अहम रोल में

अंबिका सोनी से मुलाकात के पीछे वजह बताई जा रही है कि उन्होंने सीएम चयन में अहम भूमिका निभाई। फिर जब मामला सिद्धू और रंधावा के बीच उलझा तो राहुल गांधी ने आखिरी फैसला करते समय उनकी राय भी ली। कहा जाता है कि चन्नी के नाम पर मुहर लगने में उनकी रजामंदी भी थी। ऐसे में माना जा रहा है कि चन्नी सीनियर नेता होने के नाते सीएम बनने के बाद शिष्टाचार वश सोनी से मिलने पहुंचे।

Sukhjinder Singh Randhawa: अमरिंदर सिंह के रहे खास, अब पंजाब के बने उपमुख्यमंत्री… जानें कौन हैं सुखजिंदर सिंह रंधावा

मंत्रिमंडल को अंतिम रूप

बताया जा रहा है कि सिद्धू और सीएम चन्नी रावत के साथ मिलकर भावी मंत्रिमंडल और सीनियर अफसरों की नियुक्ति को अंतिम रूप देंगे। कहा जा रहा है कि मंत्रिमंडल में पार्टी की कोशिश सबको साथ लेकर चलने की रहेगी। इसमें जहां कुछ पुराने मंत्रियों को जगह मिल सकती है, वहीं कुछ नए चेहरों को भी जगह मिलने की संभावना है। खासकर ऐसे लोगों को मौका मिल सकता है, जिन्होंने इस पूरी लड़ाई में सिद्धू खेमे का साथ दिया था। जिनको सरकार में जगह मिल सकती है, उनमें अमरिंदर सिंह राजा वारिंग, मदन लाल जलालपुर, इंदरबीर सिंह बोलारिया, गुरकीरत सिंह कोटली, परगट सिंह और संगत सिंह गिल्जियां के नामों की चर्चा है।

Charanjit Singh Channi: सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को 9 बजे तक पहुंचना होगा ऑफिस, CM बनते ही ऐक्शन मोड में आए चरणजीत सिंह चन्नी

कैप्टन के दांव से सतर्क सिद्धू खेमा

वहीं सिद्धू खेमा नजरें गड़ाए है कि कैप्टन खेमे के किन मंत्रियों या विधायकों को चन्नी सरकार में जगह मिल सकती है। कहा जा रहा है कि सिद्धू सबको साथ लेकर चलने की कोशिश में कैप्टन खेमे के भी कुछ चेहरों को मौका दे सकते हैं। इनमें कैप्टन के विश्वासपात्र गुरमीत सिंह सोढी और साधू सिंह धरमसोत के नामों की चर्चा है। गौरतलब है कि सोढी खेल मंत्री जबकि धरमसोत सामाजिक न्याय मंत्री थे।

Punjab Polotics: चरणजीत सिंह चन्नी को शुभकामनाएं देने के बाद क्या होगा कैप्टन अमरिंदर सिंह का अगला कदम?

अफसरों पर भी होगा फैसला

पंजाब में कुछ सीनियर अफसरों पर भी फैसला होना है। इनमें पंजाब के चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी शामिल हैं। माना जा रहा है कि रावत के साथ चर्चा कर सिद्धू-चन्नी इस मुद्दे पर लिस्ट तैयार करेंगे। हालांकि हाईकमान तो फिलहाल दिल्ली में नहीं है। गांधी परिवार छुट्टी मनाने फिलहाल शिमला में है। चर्चा है कि आपस में चर्चा कर लिस्ट बनाकर रावत और पंजाब के नेता उस पर राहुल गांधी और सोनिया गांधी की हरी झंडी ले सकते हैं।

Captain Amarinder Singh: क्या कांग्रेस छोड़ेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह? नई पार्टी विकल्प या बीजेपी की सियासत करेगी सूट!

डिप्टी सीएम रंधावा ने पद संभाला, सिद्धू रहे गायब

पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने मंगलवार को पंजाब सिविल सचिवालय में पद संभाल लिया। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने उनके कार्यालय पहुंचकर कुर्सी पर बिठाया। रंधावा के पद भार ग्रहण करने के अवसर पर कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू की गैरहाजिरी चर्चा का विषय बनी रही। रंधावा जब मुख्यमंत्री की दौड़ में सबसे आगे थे तो नवजोत सिद्धू ने उनका विरोध किया था। मंगलवार को सिद्धू के नहीं आने के लिए पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों का हवाला दिया गया।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुक पेज लाइक करें

Web Title : now the race for the cabinet ministry has started in punjab, eyes on the leaders of the captain’s camp

Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.

GIPHY App Key not set. Please check settings

Taliban takeover forcing heroin surge into India? thumbnail

Taliban takeover forcing heroin surge into India?

Developers can now submit beta apps to TestFlight for macOS [U: Now available]

Texans to start rookie Mills at QB; Taylor to IR